अब कभी लौटकर न आऊंगा

सुनोबहुत थक सी चुकी थी न तुम मेरे हर सवालों से?प्यार, वक़्त की भीख मांगता था।तुम्हें पाने के लिए तुमसे ही लड़ा करता था।पर ठहर सा चुका हूं तुम्हें पाने की जिद्द मेंअब लाख रोऊंगा, खुद को मनाऊंगा लेकिन तुम्हारे सामने नहीं गिड़गिड़ाऊंगा,बन गई थी तुम मेरी कमजोरी, अब मैं उसी को अपनी ताकत बनाऊंगाबिखकरकर कैसे समेटते हैं ख़ुद को […]

मां का रूप

वो 18 साल का बच्चा भी किसी मां से कम नहीं, जो हर सुबह 7 बजे से रात के 10 बजे तक इस तपती गर्मी में हमें निवाला परोसता है। अपनी ज़िंदगी सवारने की इस उम्र में मजबूरियों ने उसे कलम की जगह बेलन थमा दिया है। वो सबकी ख्वाइशें पूरी करने में लगा रहता है, ग़र नकाम होता तो […]

प्यार

मेरी आँखों में सूरज की किरणों के पड़ने से पहले मेरे कानों में तुम्हारी वो फ़ोन कॉल पे मीठी सी आवाज मानो मेरे दिन के सफर का वो आग़ाज़ की एक अनोखी शुरुआत होती है। मेरी सुबह की हर एक अंगड़ाइयाँ मानो तुम्हें मेरे क़रीब आने के लिए उत्साहित करती है। वो तुम्हारे उस शरारती अंदाज़ में मुझे सुबह गहरी […]

चलो आज कुछ बात करते हैं

चलो आज कुछ बात करते हैं,एक नए सिरे से शुरुआत करते है।माना कि आज तू दूर है मुझसेबस इन्हीं दूरियों को आज दरकिनार करते हैं, क्या याद है तुझे वो पल, जब तेरे लबों का मेरे लबों से यूं छू जाना !क्या याद है तुझे वो ढलती शाम, मुझे यूं गले से लगाकर तेरा कहना ! “मैं बस तुम्हारी होना […]

ग़लतफहमी

कब तक रखोगे अपनों से बेफ़िज़ूल की ये नाराजगी,क्यों न गलतफहमियों और प्यार को यहीं छांट लेते हैचलो अपनों में ही थोड़ी खुशियां और आंसू बांट लेते हैं…!